Followers

Tuesday, November 17, 2009

भगवान को याद किया , पूजा अर्चना की , कूडा़ फैलाया और खिसक लिए


बोले फोटो शीर्षक के तहत दैनिक हिन्दुस्तान के १६ नवंबर के अंक में प्रकाशित फोटो पर गौर फरमाईए और बताईए कि क्या यह सब जो हम लोगों द्वारा किया जा रहा है सही है ? अन्यथा ऐसा करने वालों के खिलाफ क्या कदम उठाए जाने चाहिए ?

11 comments:

Nirmla Kapila said...

बहुत गलत है ऐसे लोगों के खिलाफ कानूनी कार्यवाई होनी चाहिये अगर कोई कानून अभी नहीं है तो नया कानून जरूर बनना चाहियेजैसा कि विदेशों मे है। शुभकामनायें

Murari Pareek said...

भगवान् का भी अपमान है !!! पर समझाए कौन !!

shashisinghal said...

निर्मला जी , आपने एकदम सही कहा कि विदेशों की तरह यहां भी ऐसे लोगों के खिलाफ कानून होना चाहिए । मगर हमारे देश में विडम्बना यह है कि कानून यहां सिर्फ उसकी धज्जियां बिखेरने तथा संबन्धित अफसरों द्वारा अपनी जेब भरने तक ही सीमित रह जाते हैं , कार्रवाई के नाम पर सिर्फ झुंझना ही रह जाता है ।

Mithilesh dubey said...

बहुत ही शर्मनाक है ऐसी हरकत।

Mired Mirage said...

ऐसी भक्ति किस काम की?
घुघूती बासूती

निशाचर said...

यह पूजा के नाम पर दिखावा और ढकोसला करने वाले लोगों की करतूत होती है. ऐसे लोगों को पूजा - पाठ से ज्यादा उसका दिखावा करने की इच्छा होती है. मैं अपने मोहल्ले में ब्रह्म-मुहूर्त में उठने वाले अधिकांश लोगों को दूसरे के बागीचों से पूजा के लिए फूल चुराते देखता हूँ तो वितृष्णा सी हो आती है ऐसे पोंगा पंडिताई पर.......

MUFLIS said...

ye sach meiN hi
ek chintaa ka vishay hai
aur to aur...
padhe-likhe log bhi
isee tarah karte haiN....
aur kaanoon....
wo kyaa hotaa hai..??!!

JHAROKHA said...

भगवान के नाम पर भी लोग कैसी गन्दगी फ़ैलाते हैं-----इनके खिलाफ़ कारवाई होनी ही चाहिये।
पूनम

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

धर्म के नाम पर हर कोई बस दिखावा करने में लगा है....न तो किसी को पूजा-पाठ,भक्ति का ज्ञान और न ही अपनी सामाजिक जिम्मेदारियों का ही कोई भान ।
बस चल रहा है.......

हृदय पुष्प said...

आपके ब्लॉग पर बहुत देर से आना हुआ - हममें से ज्यादातर तो स्वयं ऐसा करते हैं कुछ देखकर भी अनदेखा कर देते हैं उस मुद्दे को आपने यहाँ उठाया - धन्यवाद्. इस विश्वास के साथ कि कुछ तो असर होगा.

HARI SHARMA said...

हे राम ये लोग कितने गैर जिम्मेदार है.