Followers

Saturday, September 21, 2013

ये तीन चीजें ---सोचो , समझो और पढो़ .....

तीन चीजें जिंदगी में एक बार मिलती हैं .....
-मां - बाप
 वक्त
दोस्त

ये तीन चीजें समझकर उठाओ ----
कदम
कसम
कलम

ये तीन चीजें सोच कर करो ------
प्यार
 बात
 फैसला

ये ती चीजें किसी का इंतजार नहीं करती ----
मौत
 वक्त
उमर

ये तीन चीजें छोटी न समझो ----
कर्ज
फर्ज
रिश्ता

ये तीन चीजें हमेशा दर्द देती है  -----
 धोखा
गरीबी
 यादें
 इन तीन चीजों से हमेशा आप खुश रहेंगे -------
गॉड
फेमिली
दोस्ती


है ना तीन चीजो का मतलब .......

5 comments:

रविकर said...


बढ़िया प्रस्तुति
आभार आपका-

Lalit Chahar said...

आपने लिखा....हमने पढ़ा....
और लोग भी पढ़ें; ...इसलिए आपकी पोस्ट हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल में शामिल की गयी और आप की इस प्रविष्टि की चर्चा {रविवार} 22/09/2013 को जिंदगी की नई शुरूवात..... - हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल – अंकः008 पर लिंक की गयी है। कृपया आप भी पधारें, आपके विचार मेरे लिए "अमोल" होंगें। सादर ....ललित चाहार

राजीव कुमार झा said...

बहुत सुन्दर .
नई पोस्ट : अद्भुत कला है : बातिक

Vikas Gupta said...

अति उत्तम विचार ।

राकेश कौशिक said...

बातें पते की