Followers

Sunday, March 14, 2010

नव संवत्सर 2067 की मंगलकामनाएं


मेरे सभी ब्लॉगर दोस्तों को नव संवत्सर 2066  बहुत - बहुत मुबारक हो ।
आने वाला नव संवत्सर 2067 मंगलमय हो ।
हिंदू तिथि के अनुसार नव संवत्सर का आरंभ चैत माह की प्रतिपदा से होता है  और इस बार यह इसकी शुरूआत 16 मार्च से हो रही है । इसी दिन से चैत नवरात्र भी प्रारंभ हो रहे हैं ।  हिंदुओं के लिए इस दिवस का बडा़ ही एतिहासिक महत्व है ।
ब्रह्मा द्वारा सृष्टि की रचना का दिवस ।
सतयुग में मत्स्यावतार का दिवस ।
महाराज विक्रमादित्य द्वारा विक्रमी संवत का शुभारंभ दिवस ।
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के संस्थापक
डॉ. केशव बलिराम हेडगेवार का जन्म दिवस
महर्षि दयानंद द्वारा आर्य समाज की स्थापना का दिवस ।
पावन चैत्र नवरात्रि का प्रथम दिवस ।

तो आइए जिस तरह हम जोर शोर से अंग्रेजी केलेण्डर के मुताबिक १ जनवरी को नया साल मनाते हैं । आज जरूरत है उससे कहीं ज्यादा जोश व उमंग के साथ नव संवत्सर 2067 का स्वागत करें ।
नव संवत्सर की अधिक जानकारी के लिए hindi.webduniya.com  पर अनिरुद्ध जोशी का आलेख देख सकते हैं ।

8 comments:

निर्मला कपिला said...

ापको भी नव वर्ष की बहुत बहुत बधाई और शुभकामनायें

राकेश कौशिक said...

धन्यवाद् - आपको भी हार्दिक शुभकामनाएं

काजल कुमार Kajal Kumar said...

धन्यवाद व आपको, आपके परिवार व मित्रों को भी वहुत बहुत शुभकामनाएं.

vedvyathit said...

aap ne ne to baji mar li
aap ka bhut 2 aabhar

meri trf se aap ko v privar ko tatha blog jgt ke sbhi shridy mitron ko bhut 2 hardik shubhkamnayen
yhan faridabad ,haryana me kai sthano pr nv smvt ke shubh avsr pr bhvy kary krm aayojit kiye ja rhe hain aaj bhi bhjn sndhya hai ,prtipda ko bhi kai sthano pr bhjn sndhya v kvi smmeln aayojit kiye gye hain ydi aap khin nikt hain to aap ka in kary krmon me hardik swagt hai
dr. ved vyathit

aarya said...

सादर वन्दे!
आपको भी नव वर्ष 2067 व युगाब्द 5112 के साथ साथ नवरात्रि की शुभकामनाएं.
रत्नेश त्रिपाठी

विवेक Call me Vish !! said...

aapko bhi meri or se hindi navvarsh ki shubhkamnayen......

Jai HO Mangalmay HO

दिव्य नर्मदा divya narmada said...

नव संवत्सर मंगलमय हो.
हर दिन सूरज नया उदय हो.
सदा आप पर ईश सदय हों-
जग-जीवन में 'सलिल' विजय हो.

सुरेन्द्र "मुल्हिद" said...

aapko bhi bhadhaaiyaan....